हथायती

-हल के ऊपरी छोर की लकड़ी । 2. कुम्हार का चाक घुमाने का काष्ठ का डंडा । -33/882.

हथमार

-अपने हाथ से दूसरों का शिर काटने वाला, संहारक । 2. प्राणघातक चोट या आघात करने वाला । -33/882.

हथनाळ

-हाथ की बन्दूक ।

हथबाह

-शस्त्र प्रहार की कला ।  -33/882.

हथणौ

-हाथ में पकड़ना, हाथ में लेना । 2. हस्तगत करना, अधिकार में करना । 3. किसी वस्तु पर बलात् अधिकार करना, हथिया लेना ।  -33/882.

Copyright © Rajfolkpedia.com 2016 All rights reserved.                                                                                                                                                                          Website Developed By: Representindia.com