बहेलियौ

-व्याघ्र, शिकारी, बहलिया । 2. कसाई, बूचर । 3. जल्लाद ।   -33/192.

बहुरूपियौ

 -अनेक रूपों वाला, अनेक रूप बनाने वाला । 2. नकल करने वाला । -पु. स्वांग बनाकर जीविका निर्वाह करने वाला व्यक्ति । -33/191.
-देखें ‘बहरूपिया’ ।

डेडण

-ढाढ़ी जाति की स्त्री ।

थावरियौ

-1. शनिदेव की पूजा करने वाला ब्राह्मण । 2. शनिदेव के पूजन का दान लेने वाला ब्राह्मण ।  -32/620.

सिंघी

-ओसवालों की एक शाखा । देखें ‘सिंगी’ । देखें सिंघवी ।

Copyright © Rajfolkpedia.com 2016 All rights reserved.                                                                                                                                                                          Website Developed By: Representindia.com